Month: July 2018

आदिशक्ति

मेरी परम पूज्य माता, मेरी जननी, मेरी आदि शक्ति, मेरी माता अनंत करुणा आपको मेरा शत शत प्रणाम। आपको मेरा कोटि कोटि नमन। मेरी माता आप मेरी प्राण हैं, आप मेरी आत्मा हैं। आप विश्वरूपा हैं, आप जगत जननी है। आप सर्वेश्वरी हैं। आप मेरी कुण्डलिनी की शक्ति हैं। मेरी जननी आप परम चेतना हैं। … Continue reading आदिशक्ति

Advertisements

ईश्वर (कविता)

ॐ ॐ ॐ ॐ ॐॐ ॐ ॐ ॐ ॐ ॐ ॐ ॐ ॐ ॐ ॐ ॐ ॐ अस्तित्व की मै चेतना हूं, समय को मै भेदता हूं, सत्य को मै जानता हूं, सबको अपना मानता हूं, सनातन धर्म स्वरूप हूं मै, सतत सम्पूर्ण हूं मै, नारायण मेरा शिखर है, अखंड सत्य मेरी डगर है, शिव … Continue reading ईश्वर (कविता)

LIKE NO OTHER… (POEM)

  Showers of blessings, fountains of joy, Flowers of springs, mountains of faith; Heart that beats for fellow companions, Life that rises above abysalls of canyons; Time that endears the love for goodness, And mind that breeds universal fondness; All creations are beautiful altogether, Existence is blissful like no other………..

VOICE OF THE BRAVE (POEM)

  Destiny doesn't ignite dedication, Inspiration fires deep cerebration; Nothing lasts longer than impulse, But human perseverance prevails..... Doesn't time expands beyond death, Patience exceeds every tick of time..... Longevity wails breathless pain, Immortality decors lifeless gloom, Life doesn't happen but manifests, Will of the spirit is boundless thunder...